Menu Close

Male Infertility Treatment In Hindi-पुरुष बांझपन का इलाज

Male Infertility Treatment In Hindi

आजकल के दौर में कई सारे कपल्स प्रजनन की समस्या से ग्रस्त हैं। इसका मतलब है कि वह बच्चा पैदा करने में असमर्थ हैं, भले ही वे एक साल से ज्यादा से प्रयास कर रहें हों। इसमें से लगभग 30% मामलों में बांझपन का कारण पुरुष बांझपन है, पुरुष बांझपन के कई कारण हैं जैसे कि शुक्राणुओं की कमी, असामान्य शुक्राणु, शुक्राणुओं के वितरण में अवरोध, कुछ बीमारियां, जीवनशैली आदि। बच्चा पैदा नहीं कर पाना एक बहुत ही तनावपूर्ण स्थिति है। पुरुष बांझपन भी इसके कारणों में से एक है। हालांकि कई इलाज हैं, जिनके माध्यम से इसे ठीक किया जा सकता है। इस लेख में जानें पुरुष बांझपन के लक्षण, कारण और इलाज- Male Infertility Treatment In Hindi.

पुरुष बांझपन के लक्षण:

पुरुष बांझपन का मुख्य लक्षण है बच्चा पैदा करने में असमर्थता, इसके अलावा कई और लक्षण भी हैं जो पुरुष बांझपन को दर्शाते हैं। हालांकि इन लक्षणों का अनुभव नहीं होता। पुरुष बांझपन से जुड़े लक्षण निम्न हैं-

1. सेक्स संबंधी समस्या जैसे उत्तेजना की कमी नपुसंकता

2. अंडकोष क्षेत्र में दर्द या सूजन रहना

3. सांस संबंधी संक्रमण का बार बार होना

4. अनियंत्रित हारमोंस

5. शुक्राणुओं की कमी

पुरुष बांझपन के कारण:

पुरुष प्रजनन क्षमता एक जटिल प्रक्रिया है अपने साथी को प्रेग्नेंट करने के लिए पुरुषों के शुक्राणु स्वस्थ्य होने चाहिए, शुक्राणुओं की मात्रा प्राप्त होनी चाहिए, शुक्राणुओं में किसी प्रकार का कोई विकार नहीं होना चाहिए और शुक्राणु में गतिशीलता होनी चाहिए।

पुरुष बांझपन के कई कारण है जो निम्नलिखित हैं:

1. अवरोध के कारण बांझपन- पुरुषों के अंडकोष में कई सारे ट्यूब होते हैं जो शुक्राणु को वहन करते हैं। कई कारणों से यह ट्यूब्स अवरोधित हो जाते हैं जैसे चोट लगना, असामान्य विकास आदि। जिससे कि ये ट्यूब्स शुक्राणुओं को वाहन नहीं कर पाते, जिसकी वजह से शुक्राणु वीर्य में नहीं मिल पाते, जो कि पुरुषों में बांझपन का कारण बनते हैं।

2. अनियंत्रित हारमोंस- पुरुषों में अनियंत्रित हारमोंस , टेस्टोस्टेरोन (Testesterone) हारमोंस का कम बनना और अन्य हारमोंस की समस्याओं के कारण बांझपन उत्पन्न हो जाता है। पीयूष ग्रन्थि (Pituitary Gland), थायराइड ग्रन्थि (Thyroid Gland), अधिवृक्क ग्रन्थि (Adrenal Gland), हाइपोथेलेमस ग्रन्थि (Hypothalamus Gland) के सही ढंग से काम नहीं करने की वजह से पुरुषों में अनियंत्रित हारमोंस की समस्या उत्पन्न हो जाती है।

3. सेक्स संबंधी समस्या- सेक्स संबंधित समस्याएं जैसे नपुसंकता, शीघ्रपतन, सेक्स के दौरान दर्द, लिंग का सख्त ना होना आदि जैसी समस्याएं भी पुरुष बांझपन के कारण है।

4. Ejaculation Problem वीर्य स्‍खलन में समस्या- कई पुरुषों में वीर्य लिंग से बाहर आने के बजाय मूत्राशय में प्रवेश कर जाता है, जिससे शुक्राणु महिला के योनि में नहीं पहुंच पाते, जो पुरुषों में बांझपन की समस्या को उत्पन्न करता है।

5. वैरीकोसेल (Varicocele)- अंडकोष में मौजूद नसों की सूजन को वैरीकोसेल कहते हैं। यह पुरुषों के बांझपन का कारण है क्योंकि इसकी वजह से पुरुष में अच्छे स्वस्थ्य शुक्राणुओं की कमी हो जाती है इसके इलाज से शुक्राणुओं की संख्या बढ़ जाती है।

6. संक्रमण- कुछ संक्रमण शुक्राणुओं के उत्पादन में बाधा डालते हैं।

7. पर्यावरण कारण- कुछ पर्यावरण तत्व जैसे हीट (Heat), टॉक्सिन्स (Toxins), और केमिकल्स (chemicals) भी शुक्राणुओं पर बुरा प्रभाव डालते हैं जो पुरुषों में बांझपन उत्पन्न करते हैं।

8. जीवन-शैली (Lifestyle) संबंधी- धूम्रपान, शराब या किसी अन्य प्रकार के नशा भी शुक्राणुओं पर बुरा प्रभाव डालते हैं इसीलिए इन सब से दूर रहें।

9. मोटापा- अत्यधिक मोटापा शरीर के साथ-साथ शुक्राणुओं के उत्पादन के लिए भी ठीक नहीं है। मोटापे के कारण हारमोंस भी अनियंत्रित रहते हैं जो पुरुषों में बांझपन का कारण है।

10. तनाव- अत्यधिक तनाव शरीर के हारमोंस अनियंत्रित करता है, जिससे शुक्राणुओं में कमी आती है। तनाव सेक्स जीवन को भी प्रभावित करता है।

पुरुष बांझपन से बचाव के लिए क्या करें:

पुरुष बांझपन के कई कारण हैं, उनमें से कुछ कारणों से बचाव संभव नहीं है। हालांकि कई ऐसे कारण हैं जिनसे बचा जा सकता है जो निम्न हैं:

1. धूम्रपान ना करें

2. शराब ना पिए

3. अन्य किसी भी प्रकार का नशा ना करें

4. वजन को सही रखें

5. तनाव ना लें

6. गरम जगहों पर ज्यादा काम करने से बचें

7. टॉक्सिन्स और केमिकल्स से दूर रहें

पुरुष बांझपन के लिए जांच:

पुरुष के बांझपन के प्रकार को जानने और निश्चित करने के लिए निम्न जाँचें की जाती है।

1. शारीरिक जांच

2. वीर्य की जांच- शुक्राणुओं के बारे में जानने के लिए

3. खून की जांच- हारमोंस के स्तर को जानने के लिए

4. अंडकोष की जांच- किसी प्रकार के विकार को जानने के लिए

5. अल्ट्रासाउंड स्कैन (Ultrasound Scans)- प्रोस्टेट ग्रंथि (Prostate Gland) को जानने के लिए

पुरुष बांझपन के इलाज:

पुरुष किस प्रकार के बांझपन से ग्रस्त हैं, उसके अनुसार ही इलाज किया जाता है। कुछ बांझपन के कारणों को ठीक नहीं किया जा सकता, हालांकि कुछ ऐसे इलाज भी हैं जिनकी मदद से पुरुषों में बांझपन को ठीक किया जा सकता है। नीचे पुरुषों के बांझपन के लिए होने वाले इलाजों के बारे में जानें-

1. सर्जरी (Surgery)- इसमें पुरुषों की प्रजनन तंत्र में किसी भी प्रकार की रुकावट को सर्जरी के माध्यम से ठीक किया जाता है।

2. हारमोंस थेरेपी (Hormones Therapy)- इसमें शरीर के हारमोंस को दवाइयों के माध्यम से ठीक किया जाता है ताकि शुक्राणुओं की संख्या बढ़ सके।

3. Artificial Insemination- जब पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या कम हो या नपुसंकता हो तो इस तकनीक के माध्यम से पुरुषों के शुक्राणुओं को प्रयोगशाला में साफ करके महिला की योनि में एक ट्यूब के माध्यम से डाल दिया जाता है, जिससे कि महिला गर्भधारण कर पाए।

4. Invitrofertilization (IVF)- इस तकनीक में पुरुषों के शुक्राणु और महिला के अंडे को प्रयोगशाला में मिलाया जाता है जिससे भूर्ण तैयार किया जाता है और इस भूर्ण को महिला के गर्भाशय में प्रत्यारोपित कर दिया जाता है जिससे महिला गर्भधारण कर पाती है।

5. Intra Cytoplasmic Sperm Injection (ICSI)- यह तकनीक तब इस्तेमाल की जाती है जब पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या बहुत कम हो। इस तकनीक में पुरुष की एक-एक शुक्राणु को महिला के एक-एक अंडे में इंजेक्ट किया जाता है और इससे जो भूर्ण तैयार होता है उसे महिला के अंडाशय में सही समय में प्रत्यारोपित कर दिया जाता है।

6. सेक्स संबंधी इलाज- दवाइयों के माध्यम से पुरुषों में शीघ्रपतन, नपुसंकता का इलाज किया जाता है।

हर पुरुषो के बांझपन के कारण और लक्षण भिन्न होते हैं। आप अपने डॉक्टर से संपर्क करके इलाज के बारे में जान सकते हैं जो आपके लिए उत्तम हो।

और पढ़ें:

https://www.sehatness.com/kabj-ka-ilaj-constipation-treatment-in-hindi

https://www.sehatness.com/diabetes-sugar-madhumeh-in-hindi

https://www.sehatness.com/pet-kam-karne-ke-gharelu-upay

https://www.sehatness.com/how-to-stop-snoring-in-hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *